वो दिन दूर नहीं जब PoK फिर भारत में होगा: जनरल वीके सिंह

0

PoK के साथ साथ बलूचिस्तान और सिंध भी होगा नापाक पाक से अलग: इंद्रेश कुमार

नई दिल्ली, 1 अक्टूबर। वो दिन दूर नहीं जब गुलाम कश्मीर (PoK) एक बार फिर से भारत का होगा। यह घोषणा लाल किले के ऐतिहासिक रामलीला मैदान से जनरल वीके सिंह ने की। इस अवसर पर मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मुख्य संरक्षक और संघ के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार ने ऐलान किया कि बहुत जल्द PoK के साथ साथ  बलूचिस्तान और सिंध भी पाक की नापाक हरकतों, बदनीयती और बहुत तेजी से चरमराती अर्थव्यवस्था के कारण अलग हो जायेगा।

 

रविवार का दिन भारतीय इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में लिखा जायेगा। राष्ट्रवादी मुस्लिम संगठन विशाल रैली निकाली जिसमें घोषणा की गई कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने ठाना है PoK में तिरंगा फहराना है। इसी नाते की गूंज के साथ मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने देश की राजधानी दिल्ली में विशाल रैली निकाली गई।

Tiranga Yatra for PoK

मंच के मुख्य संरक्षण इंद्रेश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान की हुकूमत, हुकूमते जुल्म है जबकि भारत की सरकार और यह देश अमन और चैन का मुल्क है। हिंदुस्तान की सरकार द्वारा हिंदुस्तान का भाईचारा, अमन, शांति, तहजीब को देखते हुए PoK भारत के साथ जुड़ना चाहता है।

 

दूसरी तरफ, भारत सरकार के मंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा कि वो वो दिन दूर नहीं जब PoK एक बार फिर भारत से जुड़ जाएगा। जनरल सिंह ने कहा कि अगर अंग्रेजों ने साजिश न कि होती तो कोई तरीका नहीं था जिससे PoK भारत से जाता। माउंट बेटन ने उस समय के प्रधानमंत्री को गलत सलाह देते हुए साजिश रची। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को शुरू से यह डर सताता रहा है कि PoK में रहने वाले लोग जिनके रिश्तेदार भारतीय कश्मीर में हैं वो एक बार फिर अपने रिश्तेदारों से जुड़ना चाहेंगे। इसलिए पाकिस्तान उन लोगों पर हमेशा जोर, ज्यादती करता रहता है। लेकिन वो दिन दूर नहीं जब PoK एक बार फिर से भारत के साथ होगा। उन्होंने कहा कि PoK भारत का था, है और सदा रहेगा।

Tiranga Yatra for PoK

इंद्रेश कुमार ने कहा कि PoK में अभी तक पाकिस्तानी सेना के अलावा पाकिस्तान का कुछ भी नहीं है। ना तो वहां पाकिस्तान की करेंसी है ना डाक टिकट और ना ही पाकिस्तान का झंडा। वहां के लोग भारत को ही अपना मुल्क समझते हैं और भारत के साथ ही जुड़ना चाहते हैं।

 

इंद्रेश कुमार ने कहा कि आम भारतवासियों की सोच है कि हमारा और आपका मजहब कुछ भी हो लेकिन हम और आप अपने पुरखों से एक थे एक हैं और एक ही रहेंगे। और यह सभी बातें PoK, ब्लूचिस्तान, सिंध को भी अच्छी तरह समझ आती है।

 

 

इंद्रेश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हुकूमत और उनकी कार्यकुशलता की तारीफ करते हुए कहा कि भारतीय कूटनीतिक सफलता G 20 में साफ तौर पर दिखा। संयुक्त अरब अमीरात के उप प्रधानमंत्री सैफ बिन जायद अल नाहयान ने गुलाम कश्मीर (PoK) को भारत का अभिन्न हिस्सा बताया है। उन्होंने भारत-मध्य पूर्व-यूरोप आर्थिक गलियारे पर एक वीडियो में एक नक्शा भी दिखाया था, जिसमें PoK और अक्साई चिन को भारत का हिस्सा दिखाया गया है। और सच्चाई भी यही है।

 

Tiranga Yatra for PoK

राष्ट्रीय संयोजक शाहिद अख्तर ने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने धारा 370 और 35A जैसी चीजें हटा के यह दिखाया दिया है कि भारत की सरकार कश्मीर और कश्मीरियों को अपने दिल में रखती और उनकी बेहतरी के लिए काम करती है। उन्होंने कहा कि आज देश ने ठान लिया है कि हमें हर कीमत पर गुलाम कश्मीर को अपने मुल्क में वापस लेना है। भारतीय और कश्मीरी मुसलमान अच्छी तरह जानते हैं कि भारत में हर धर्म, मजहब के लोग तरक्की, अमन और खुशहाली के रास्ते पर हैं।

 

राष्ट्रीय संयोजक मोहम्मद अफजाल ने कहा कि भारत में लोग एक दूसरे के धर्म और मजहबों की इज्जत करते हैं। यही कारण है कि भारत सभी धर्मों, समुदायों, वर्गों को लेकर दिनों दिन तरक्की के रास्ते पर चला। भारत आज चांद तक अपनी पहुंच दिखा चुका है दूसरी तरफ पाकिस्तान आज दाने दाने के लिए मोहताज है।

Tiranga Yatra for PoK

इस मौके पर कश्मीर से आए फिरदौस बाबा ने कहा कि पाकिस्तान नफरत की नींव पर खड़ा हुआ है, वहां शिया सुन्नी और दूसरे फिरके की लड़ाइयां होती रहती हैं। नमाज़ पढ़ते लोगों को मस्जिदों के अंदर बम के धमाके से उड़ा दिया जाता है तो कभी गोलियों से भून दिया जाता है। जबकि दूसरी तरफ भारत सभी धर्मों को लेकर साथ चला जाता है और यही भारत की खुशहाली का राज है।

 

Alpine

 

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की रैली लाल किले के रामलीला मैदान से निकल कर जैन दिगंबर मंदिर, गौरी शंकर मंदिर, सुनहरी मस्जिद, गुरुद्वारा शीशगंज और सैंट स्टीफंस चर्च होते हुए वापस लाल किला वापस आई। रास्ते में PoK हमारा है हमारा है, PoK पर तिरंगा फहराना है, भारत माता की जय, PoK ने पुकारा है हिंदुस्तान हिंदुस्तान के नारे गूंजे और सभी स्थलों पर रैली का जोरदार स्वागत हुआ। रैली का हर धार्मिक स्थलों पर जोरदार स्वागत हुआ। इसमें हर धर्म और मजहब के लोगों ने शामिल हो कर एक सुर में आवाज दी कि PoK ने पुकारा है भारत भारत।

Loading

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *