TV actor Rituraj Singh dies : टीवी अभिनेता ऋतुराज सिंह का निधन: हृदय गति रुकने का कारण क्या था?

0
tv actor rituraj singh

TV actor Rituraj Singh dies: टीवी अभिनेता ऋतुराज सिंह का 59 साल की उम्र में अग्न्याशय की बीमारी के इलाज के बाद अचानक हृदय गति रुकने से निधन हो गया। यह घटना कई सवालों को जन्म देती है, जैसे कि अग्न्याशय की बीमारी और हृदय गति रुकने के बीच क्या संबंध है?

डॉक्टरों का कहना है कि अग्न्याशय की बीमारी सीधे तौर पर कार्डियक अरेस्ट का कारण नहीं बन सकती है। यदि किसी व्यक्ति में कोई छिपी हुई या अज्ञात हृदय रोग, मधुमेह, उच्च रक्तचाप, धूम्रपान, तनावपूर्ण जीवनशैली नहीं है तो फिर अग्न्याशय की बीमारी हृदय गति रुकने का कारण नहीं बनेगी।

लेकिन, कुछ स्थितियों में, अग्न्याशय की बीमारी हृदय गति रुकने के जोखिम को बढ़ा सकती है:

  • तीव्र अग्नाशयशोथ (Acute Pancreatitis): यह एक गंभीर स्थिति है जिसमें अग्न्याशय खुद को पचाने लगता है। इससे शरीर में सूजन बढ़ जाती है, जो रक्त के थक्के बनने की संभावना को बढ़ा सकती है। थक्के हृदय की धमनियों में रुकावट पैदा कर सकते हैं, जिससे हृदय गति रुक सकती है।
  • मधुमेह: अग्न्याशय मधुमेह को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यदि अग्न्याशय ठीक से काम नहीं कर रहा है, तो मधुमेह का खतरा बढ़ जाता है। मधुमेह हृदय रोग और हृदय गति रुकने के लिए एक प्रमुख जोखिम कारक है।
  • धूम्रपान: धूम्रपान अग्न्याशय की बीमारी और हृदय रोग दोनों के लिए एक प्रमुख जोखिम कारक है। धूम्रपान रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचाता है और रक्त के थक्के बनने की संभावना को बढ़ाता है।

 

tv actor rituraj singh

Read Also…

Satyajit Ray: सत्यजित राय के सिनेमा पर हिंदी में महत्वपूर्ण पुस्तक

चंडीगढ़ मेयर चुनाव का सुप्रीम कोर्ट ने पलटा रिजल्ट, AAP-कांग्रेस उम्मीदवार कुलदीप कुमार बने नए मेयर

 

तो, अग्न्याशय की बीमारी वाले लोगों को हृदय गति रुकने के जोखिम को कम करने के लिए क्या करना चाहिए?

  • अपनी अग्न्याशय की बीमारी का इलाज करवाएं: डॉक्टर से मिलकर अपनी अग्न्याशय की बीमारी का उचित इलाज करवाएं।
  • हृदय रोग के जोखिम कारकों को नियंत्रित करें: मधुमेह, उच्च रक्तचाप, धूम्रपान, तनावपूर्ण जीवनशैली आदि जैसे हृदय रोग के जोखिम कारकों को नियंत्रित करें।
  • नियमित रूप से व्यायाम करें: व्यायाम हृदय स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।
  • स्वस्थ आहार लें: फल, सब्जियां, साबुत अनाज और कम वसा वाले डेयरी उत्पादों जैसे स्वस्थ खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

अंत में, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि अग्न्याशय की बीमारी वाले सभी लोगों को हृदय गति रुकने का खतरा नहीं होता है। यदि आपको अग्न्याशय की बीमारी है, तो डॉक्टर से मिलकर अपनी चिंताओं पर चर्चा करें और हृदय गति रुकने के जोखिम को कम करने के लिए उचित उपाय करें।

यह भी ध्यान दें कि यह जानकारी केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए है और किसी भी तरह से चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। यदि आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है, तो डॉक्टर से सलाह लेना महत्वपूर्ण है।

SHARE NOW

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

slot gacor
slot thailand
slot server thailand
scatter hitam
mahjong ways
scatter hitam
mahjong ways
desa4d
sweet bonanza 1000
sweet bonanza 1000
sweet bonanza 1000
sweet bonanza 1000
desa4d