• नई आकाशगंगा ‘बेबी मिल्की वे’ ने पलट दी वैज्ञानिकों की थ्योरी

    नई आकाशगंगा ‘बेबी मिल्की वे’ ने पलट दी वैज्ञानिकों की थ्योरी0

    हाल ही में खगोलविदों ने बताया कि हमारी आकाशगंगा की तरह दिखने वाली 12 बिलियन प्रकाश वर्ष दूर एक अन्य सुनहरे प्रभामंडल वाली आकाशगंगा है। जिसे उन्होंने ‘SPT0418-47’ नाम दिया है। गौरतलब है कि ब्रह्मांडीय इतिहास में यह पहली बार है कि ब्रह्मांड में एक उभार देखा गया है जो SPT0418-47 के रूप में पृथ्वी

    READ MORE
  • पुरुषार्थ क्या है? जानना क्यों जरूरी?

    पुरुषार्थ क्या है? जानना क्यों जरूरी?0

    पुरुष और अर्थ से मिल कर बना पुरुषार्थ शब्द अत्यंत गूढ़ और गहन ज्ञान वाला है। अयिए मेरे साथ चिंतन के धरातल पर चलें । वैसे तो सांख्य नाम का एक भारतीय दर्शन है जिसमें पुरुष शब्द का प्रयोग ब्रह्म के रूप में मिलता है। वहां पुरुष का अर्थ प्रथक है ,उस पर चर्चा फिर

    READ MORE
  • मृत्यु के बाद के कर्मकांड

    मृत्यु के बाद के कर्मकांड0

    जीवन का अंतिम संस्कार है मृत्यु । जतास्य हि ध्रुवो मृत्यु: जन्म मृत्यु ध्रुवस्च। जन्म लेने वाले की मृत्यु सुनिश्चित है चाहे राजा हो या रंक।            मृतक के शरीर की अंतिम क्रिया विभिन्न संप्रदायों, मजहबों में अलग अलग ढंग से की जाती है जिनका मुख्य संबंध सामाजिक रीति रिवाजों से अधिक है। कोई जलाए

    READ MORE
  • रोज़गार का अकाल होगी सबसे बड़ी चुनौती – प्रो. मुकेश कुमार

    रोज़गार का अकाल होगी सबसे बड़ी चुनौती – प्रो. मुकेश कुमार0

    कोरोना वायरस के संक्रमण पर काबू पाने के लिए देश में लॉकडाउन 3 मई 2020 तक बढ़ा दिया गया है। लॉकडाउन की वजह से शिक्षा व्यवस्था भी पूरी तरह से ठप हो गई है। लाखों छात्रों की बोर्ड परीक्षाएं बीच में अटक गई हैं। मेडिकल, इंजीनियरिंग, एसएससी, बैंक, रेलवे इत्यादि सैकड़ों प्रतियोगी परीक्षाएं भी टल

    READ MORE
  • राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) क्या NRC का रिहर्सल है?

    राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) क्या NRC का रिहर्सल है?0

    राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (National Population Register) देश के सामान्य निवासियों की एक सूची है जो नागरिकता अधिनियम 1955 के प्रावधानों के तहत स्थानीय, उप-ज़िला, ज़िला, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर बनाई जाती है। कोई भी व्यक्ति जो 6 महीने या उससे अधिक समय से भारत में रह रहा है या अगले 6 महीने या उससे

    READ MORE
  • शिक्षा में सब्सिडी : निवेश या बोझ

    शिक्षा में सब्सिडी : निवेश या बोझ0

    शिक्षा खासतौर पर उच्चतर शिक्षा में सब्सिडी दी जाए या नहीं इस पर काफी विवाद रहा है। हाल ही में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में फीस बढ़ोत्तरी पर हो रहे छात्र आंदोलन ने शिक्षा में सब्सिडी दिए जाने के मुद्दे को एक बार फिर चर्चा में ला दिया है। इस मुद्दे को समझने के लिए

    READ MORE

Latest Posts

Top Authors